Russia-Ukraine War: रूस-यूक्रेन युद्ध से लगा भारत को झटका!

Spread the love

सरकार का बढ़ा 1 लाख करोड़ रुपये का खर्च

Russia-Ukraine War: रूस और यूक्रेन के बीच हो रहे युद्ध (Russia-Ukraine War) ने भारतीय किसानों को मुश्किल में डाल दिया है. वैश्विक बाजार में उर्वरकों के दाम में 40 फीसदी की बढ़ोतरी हो चुकी है, जिसका सीधा असर किसानों पर पड़ेगा. सरकार को इस समस्या से किसानों को मुक्ति दिलाने के लिए चालू वित्‍तवर्ष में करीब दो लाख करोड़ रुपये की खाद सब्सिडी देनी होगी.

नई दिल्‍ली: रूस और यूक्रेन के बीच के जंग (Russia-Ukraine War) ने भारत सरकार पर आर्थिक बोझ बढ़ा दिया है. इस जंग से उपजे संकट ने वैश्विक स्तर पर नुकसान पहुंचाया है. इस बीच ग्‍लोबल मार्केट में उर्वरकों की कीमतों में जबरदस्‍त इजाफा हुआ है, जिसका सीधा असर भारतीय किसानों पर पड़ेगा.

किसानों पर बढ़ेगा आर्थिक बोझ

रूस की तरफ से उर्वरक की बढ़ी हुई कीमत के कारण किसानों पर आर्थिक बोझ बढ़ जाएगा. हालांकि, केंद्र सरकार किसानों को इस बढ़ी हुई कीमत के बोझ से बचाने के लिए उर्वरक पर मिलने वाली सब्सिडी को दोगुना कर सकती है. कहा जा रहा है कि केंद्र सरकार इस बार किसानों को 2 लाख करोड़ रुपये की खाद सब्सिडी देने पर विचार कर रही है. यानी सरकार इस पर 1 लाख करोड़ रुपये की अतिरिक्‍त सब्सिडी खर्च करेगी.

Also Read : JEE Main 2022: अप्रैल सत्र के लिए आवेदन की आखिरी तारीख आज

बजट में रखा था प्रावधान

इससे पहले वित्‍तमंत्री निर्मला सीतारमण ने 1 फरवरी को बजट 2022-23 पेश करते हुए चालू वित्‍तवर्ष के लिए उर्वरक पर 1 लाख करोड़ रुपये की सब्सिडी देने का ऐलान किया था. लेकिन, फरवरी के आखिरी सप्‍ताह से रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध छिड़ने के बाद स्थितियां बदल गईं हैं. और अब भारत जिन फर्टिलाइजर्स का आयात करती है, उनकी कीमतें वैश्विक बाजार में बहुत ज्यादा हो गई हैं. ऐसे में, किसानों के लिए इस कीमत को चुकाना आसान नहीं है इसलिए सरकार खाद सब्सिडी पर 1 लाख करोड़ रुपये और बढ़ा सकती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.