चीनी कंपनी के खिलाफ स्मार्टफोन निर्माताओं पर ED का छापा; 5551 करोड़ रुपये जब्त

Spread the love

चीन की प्रमुख स्मार्टफोन निर्माता कंपनी शाओमी के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कई छापेमारी की है। ईडी ने कंपनी के बेंगलुरु स्थित कार्यालय से 5,551 करोड़ रुपये जब्त किए हैं। कंपनी पर अवैध रूप से पैसा कमाने और उसे भारत से बाहर भेजने का आरोप है। कंपनी ने फरवरी में वित्तीय गबन किया था। ईडी अब कार्रवाई कर रही है।

ईडी का कहना है कि टेक कंपनी चीन में अपनी मूल कंपनी को रॉयल्टी के नाम पर इतनी बड़ी रकम का संकेत दे रही थी। इसने संयुक्त राज्य अमेरिका में Xiaomi Group of Companies को भी भेजा है।

ईडी के मुताबिक, जिन तीन कंपनियों को Xiaomi ने पैसा भेजा है, उनका Xiaomi India के साथ कोई व्यावसायिक संबंध नहीं है । एजेंसी ने कहा कि Xiaomi समूह धोखाधड़ी को कवर करने के लिए विभिन्न कहानियां गढ़ रहा था और कंपनी को लगातार गुमराह कर रहा था। कंपनी ने बैंक को भारत से बाहर पैसा भेजने की झूठी जानकारी भी दी थी। कुछ महीने पहले शाओमी के ग्लोबल वाइस प्रेसिडेंट मनु जैन को फेमा नियमों के उल्लंघन के लिए ईडी के सामने पेश होना पड़ा था।

आयकर विभाग ने
फेमा अधिनियम पर भी छापा मारा है जो दंड नियमों का उल्लंघन करने पर जुर्माने का 3 गुना है। Xiaomi के अलावा, आयकर विभाग द्वारा चीनी मोबाइल कंपनियों के कई व्यावसायिक स्थानों पर छापा मारा गया है। सरकार ने सुरक्षा चिंताओं के कारण Xiaomi के कुछ स्मार्टफोन एप्लिकेशन पर भी प्रतिबंध लगा दिया है।

Xiaomi पिछली कुछ तिमाहियों से भारतीय स्मार्टफोन बाजार में सबसे आगे है। भारत में स्मार्टफोन शिपमेंट की कमी के बीच कंपनी ने 22% की बाजार हिस्सेदारी के साथ 2021 की चौथी तिमाही में नेतृत्व किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.